सबअर्बन ट्रेन

महाराष्ट्र स्टेट बोर्ड की परीक्षाओं देने वाले छात्रों के साथ स्कूलों के शिक्षक और नॉन-टीचिंग स्टाफ भी अपना आई-कार्ड नंबर मुंबई की सबअर्बन ट्रेनों (मुंबई उपनगरीय ट्रेनों) में 10 दिसंबर तक यात्रा कर सकते हैं।

मुंबई। महाराष्ट्र राज्य बोर्ड ऑफ सेकंडरी और हायर सेकंडरी एजुकेशन एगमजिनेशन (महाराष्ट्र स्टेट बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एंड हायर एजुकेशन एग्जामिनेशन) के छात्रों को रेलवे (भारतीय रेलवे) ने बड़ी राहत दी है। परीक्षा देने वाले छात्र अब 10 दिसंबर तक वेलिड हॉल टिकट शो मुंबई की सबअर्बन ट्रेनों में यात्रा कर सकते हैं। छात्रों के साथ स्कूलों के शिक्षक और नॉन-टीचिंग स्टाफ भी अपना आई-कार्ड जारी मुंबई की सबअर्बन ट्रेनों (मुंबई उपनगरीय ट्रेनों) में यात्रा कर सकते हैं।

इस संबंध में पश्चिम रेलवे और मध्य रेलवे ने एक संयुक्त बयान जारी किया है। बयान के मुताबिक, मुंबई की सबअर्बन ट्रेनों में स्टूडेंट्स को तिमाही करने की इजाजत तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है और यह आदेश 10 दिसंबर तक प्रभावी रहेगा। रेलवे का कहना है कि इससे छात्रों और शिक्षकों को काफी राहत मिलेगी। इस संबंध में मध्य रेलवे ने ट्वीट भी किया है। इससे पहले रेलवे के अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा था कि मुंबई के लोकल ट्रेनों में टीचिंग और नॉन-टीचिंग स्टाफ को यात्रा करने की इजाजत दे दी गई है।

महाराष्ट्र सरकार ने रेलवे से किया था अनुरोध

मुंबई लोकल ट्रेनों में यात्रा करने के लिए छात्रों, शिक्षकों और नॉन-टीचिंग स्टाफ को स्टेशन पर वेलिड आईडी कार्ड दिखाना होगा। इसके बाद ही उन्हें स्टेशन में एंट्री मिलेगी। इसके अलावा उनमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा और कार्य लगाना अनिवार्य होगा।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार ने पिछले सप्ताह रेलवे से छात्रों, शिक्षकों और नॉन-टीचिंग स्टाफ को यात्रा करने की इजाजत देने का अनुरोध किया था। इस बीच सेंट्रल रलवे ने बेलापुर और नेरुल से खारकोप स्टेशन के बीच eight स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला किया है।



Supply hyperlink

By Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *